इंग्लैंड भी नहीं रोक पाई भारत का विजयी रथ, रोहित शर्मा ने जीत के बाद दिया हरेक सवाल का जवाब

[ad_1]

ICC World Cup 2023: वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के विजयी रथ को डिफेंडिंग चैंपियन इंग्लैंड भी रोक नहीं पाई है. लखनऊ के इकाना क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए इस कम स्कोर वाले मैच में भी भारत ने इंग्लैंड को 100 रनों से हरा दिया है. इस जीत के साथ भारत ने टूर्नामेंट में 6 में से 6 मैच जीतकर 12 अंक हासिल किए हैं, और प्वाइंट्स टेबल के टॉप पर पहुंच गई है.

भारत को मिली इस जीत के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने सबसे पहले अपने टीम में मौजूद मैच विनर्स खिलाड़ियों की बात की. उन्होंने कहा कि, यह एक ऐसा मैच था, जिसमें हमें हमारी टीम के कई कैरेक्टर्स (मैच विनर्स) देखने को मिले. हमारे सभी सीनियर प्लेयर्स ने सही टाइम पर अपने हाथ खड़े किए और टीम को जीत दिलाई.

उसके बाद इस वर्ल्ड कप में पहली बार पहले बल्लेबाजी करने के बारे में कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि, “इस टूर्नामेंट के पहले पांच मैचों में हमने बाद में बल्लेबाजी की थी, यहां हमें पहले बल्लेबाजी करनी पड़ी. हमें सामने से कड़ी चुनौती मिली, इंग्लैंड के गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी की. हम ऐसी पिच पर एक अच्छा टोटल बनाने चाहते थे, जहां बल्लेबाजी करना मुश्किल था. हम एक अच्छे टोटल तक पहुंचना चाहते थे, जिसके बदौलत हम खेल सकें.” 

कुछ बल्लेबाजों ने अपना विकेट खुद गवांया

रोहित ने इसके बाद टीम की बल्लेबाजी और खराब शॉट सिलेक्शन के बारे में बात करते हुए कहा कि, “हमने आज अच्छी बल्लेबाजी नहीं की. तीन विकेट खोना एक अच्छी परिस्थिति नहीं थी. जब आप ऐसी किसी परिस्थिति में हो सभी को लंबी पार्टनरशिप बनाने के बारे में सोचना चाहिए, जो हमने की, लेकिन कुछ लड़कों ने अपना विकेट खुद गवांया, जिसमें मैं भी शामिल था. हम सभी सिर्फ सकारात्मक रहने की कोशिश कर रहे थे, जो गेंद मेरे एरिया में थी, उसे मैच बाहर भेजना चाह रहा था. इसी तरह से दबाव वापस गेंदबाजों और विपक्षी टीम पर डाला जाता है, लेकिन मुझे लगा था कि हमने 30 रन कम बनाए हैं.”

टीम इंडिया के कप्तान ने इसके आगे बात करते हुए नई गेंद से टीम इंडिया की बॉलिंग के बारे में बात की और कहा कि, “ऐसा आप हर दिन नहीं देखते. जब आप नई पारी की शुरुआत करते हैं, तो आप किसी भी तरह से शुरू में विकेट लेने और विपक्षी टीम पर दबाव बनाने की कोशिश करते हैं. हमारे सीमर्स के पास जितना अनुभव है, उसके आप उनपर हमेशा जरूरी विकेट लेने का भरोसा कर सकते हैं. हमारे सीमर्स आज बिल्कुल ऐसा ही किया. उन्होंने परिस्थितियों का काफी अच्छे से इस्तेमाल किया. स्विंग उपलब्ध थी, गेंद घूम भी रही थी. वे गेंद को सही जगह पर पटकते रहे जिससे बल्लेबाजों के दिमाग में दुविधा पैदा होती रही और वो आउट हो गए.”

अंत में रोहित शर्मा ने टीम इंडिया की गेंदबाजी पर सबसे अच्छा गेंदबाजी अटैक बोलने पर कहा कि, “मुझे ऐसा लगता है. हमारे पास अच्छा बैलेंस है, कुछ अच्छे स्पिनर्स हैं, और सीमर्स के पास ऐसी परिस्थितियों का बहुत ज्यादा अनुभव है. टीम में ठीक-ठाक अनुपात में विकल्प और अनुभव भी उपलब्ध है. यह काफी महत्वपूर्ण है कि बल्लेबाज बोर्ड पर रन लगाए, और उन्हें (गेंदबाजों को) अपना काम करने का मौका दें, ताकि वो अपना जादू दिखा सकें.”

यह भी पढ़ें: वर्ल्ड कप के इतिहास में सबसे ज्यादा मैच जीतने वाली दूसरी टीम बना भारत, पहली बार लगातार चार मैच हारा इंग्लैंड

[ad_2]

Source link

Leave a Comment