ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के झंडे के कोने में क्यों बना होता है ब्रिटेन का झंडा? ये है कारण

[ad_1]

British Flag Corner: आपने भारत का झंडा देखा होगा. ऐसे ही दुनिया में हर देश के पास अपना फ्लैग है. ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के पास भी है, लेकिन यह बाकि देशों से अलग है. इसमें कुछ खास बात है. ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के झंडे के कोने में ब्रिटेन का झंडा बना होता है. ऐसा आपको और किसी भी देश के झंडे के साथ देखने को नहीं मिलता है. आप अगर किसी व्यक्ति की कोई चीज ले लेते हैं, उस ब्रांड के नाम से जुड़ा कोई चीज इस्तेमाल कर लेते हैं तब आपके ऊपर कॉपीराइट लग जाता है. ऐसे में कोई देश दूसरे देश का झंडा इस्तेमाल कैसे कर ले रहा है. आइए जानते हैं.

इसलिए बना होता है झंडे में जैक

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के झंडे के कोने में यूनियन जैक इसलिए बना होता है, क्योंकि ये दोनों देश ब्रिटिश उपनिवेशों का हिस्सा थे. ये अब ब्रिटिश कॉमनवेल्थ राष्ट्र का हिस्सा हैं. यूनियन जैक की उपस्थिति उस संबंध का प्रतीक है. ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के झंडे में यूनियन जैक होने के कुछ कारण ये हैं. यह ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड और यूके के बीच संबंध का प्रतिनिधित्व करता है. ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड दोनों ब्रिटिश उपनिवेशों का हिस्सा थे. यूनियन जैक एक पूर्व ब्रिटिश उपनिवेश और प्रभुत्व के रूप में न्यूजीलैंड की ऐतिहासिक नींव को मान्यता देता है.

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के झंडे में यूनियन जैक के अलावा, कुछ और अंतर भी हैं. ऑस्ट्रेलियाई झंडे में छह सफ़ेद तारे हैं. न्यूजीलैंड के झंडे में चार लाल तारे हैं. ऑस्ट्रेलिया में यूनियन जैक को पहली बार 29 अप्रैल 1770 को कैप्टन कुक ने स्टिंग्रे हार्बर (बाद में इसका नाम बदलकर बॉटनी बे) में रखा था. इन दोनों देशों की और भी कई खासियतें ब्रिटेन से मिलती है. 

ये भी पढ़ें: Chandra Grahan 2023: आधे से अधिक लोग नहीं जानते हैं चंद्र ग्रहण के बारे में ये 5 बातें

[ad_2]

Source link

Leave a Comment