किंग चार्ल्स को है कैंसर, बकिंघम पैलेस ने की घोषणा

[ad_1]

King Charles Has Cancer: ब्रिटेन के 75 वर्षीय महाराजा चार्ल्स तृतीय को कैंसर है, यह घोषणा सोमवार (5 फरवरी) को बकिंघम पैलेस ने की. एबीसी न्यूज के मुताबिक, बकिंघम पैलेस ने एक बयान में कहा कि महाराजा का प्रोस्टेट के बढ़ने का इलाज चल रहा था. इसके इलाज के दौरान चिंता का एक अलग मुद्दा ध्यान दिया गया. बकिंघम पैलेस ने कहा, “बाद के डायग्नोस्टिक टेस्ट ने कैंसर के एक रूप की पहचान की है.”

किंग चार्ल्स ने सोमवार को नियमित उपचार का एक शेड्यूल शुरू किया. डॉक्टरों ने उन्हें सार्वजनिक जगहों से जुड़े कर्तव्यों को स्थगित करने की सलाह दी है. पैलेस ने कहा कि वह हमेशा की तरह कामकाज और आधिकारिक कागजी काम करना जारी रखेंगे. बकिंघम पैलेस ने फिलहाल कैंसर के प्रकार या उसके उपचार के प्रकार के बारे में जानकारी नहीं दी है.

पैलेस ने बताया क्यों किंग चार्ल्स ने साझा किया डायग्नोसिस

पैलेस ने कहा कि किंग चार्ल्स अपनी मेडिकल टीम के लिए आभारी हैं. वह अपने इलाज के बारे में पूरी तरह से सकारात्मक हैं और जल्द से जल्द पूरी तरह से सार्वजनिक कर्तव्य पर लौटने के लिए उत्सुक हैं. पैलेस ने कहा कि महामहिम ने अटकलों को रोकने के लिए अपने डायग्नोसिस को साझा करने का फैसला किया है. उन्होंने इस उम्मीद में ऐसा किया कि यह दुनियाभर के उन सभी लोगों के लिए सार्वजनिक समझ में मदद करेगा जो कैंसर से प्रभावित हैं.

प्रोस्टेट के इलाज के बाद महाराजा को मिल गई थी क्लीनिक से छुट्टी

बकिंघम पैलेस के मुताबिक, एक हफ्ते पहले 29 जनवरी को बढ़े हुए प्रोस्टेट के इलाज की प्रक्रिया से गुजरने के बाद किंग चार्ल्स को लंदन क्लिनिक से छुट्टी मिल गई थी. उस समय पैलेस ने महाराजा के स्वस्थ होने की छोटी अवधि के बाद उनकी ओर से सार्वजनिक गतिविधियों को फिर से शुरू किए जाने की उम्मीद जताई थी.

बकिंघम पैलेस ने सबसे पहले 17 जनवरी को किंग चार्ल्स की चिकित्सा स्थिति की खबर साझा की थी. पैलेस ने घोषणा की थी कि महाराजा को अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा. उस समय कैंसर का कोई जिक्र नहीं किया गया था.

यह भी पढ़ें- Pakistan Election 2024: पाकिस्तानी सेना पर 14 हमले, BRAS ने ली जिम्मेदारी, कहा- पाकिस्तानी आवाम चुनावी रैलियों से दूर रहे

[ad_2]

Source link

Leave a Comment