गाजा के पड़ोस में इजरायल के अलावा कौन-कौन से देश हैं? ये हैं बाहर निकलने रास्ते

[ad_1]

Israel Hamas Attack: इजरायल और हमास के बीच पिछले 11 दिनों से जंग जारी है. युद्ध में दोनों ओर से अब तक करीब 4000 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी हैं, जबकि हजारों घायल हैं. हमास के हमलों में इजरायल के 1,400 लोगों ने जान गंवा दी है और लगभग 3,500 घायल हैं. वहीं, इजरायली सेना की कार्रवाई में 2800 फलस्तीनियों की मौत हो चुकी और करीब 11 हजार लोग बुरी तरह से घायल हैं.

इजरायल और हमास के बीच 7 अक्टूबर को उस समय जंग की शुरुआत हुई थी. जब फलस्तीन के चरमपंथी समूह हमास के लड़ाकों ने इजरायल पर रॉकेट दाग दिए थे. इसके बाद इजरायल ने गाजा में जवाबी कार्रवाई की और हमास पर ताबड़तोड़ हमले किए.

हालांकि, इजरायल ने आम फलस्तीनी वासियों से गाजा पट्टी को खाली करने का आदेश दिया, ताकि उसकी सेना गाजा में दाखिल हो सके. ऐसे में यह सवाल उठता है कि अगर फलस्तीन के लोग गाजा छोड़कर जाते हैं तो वह किस देश में शरण लेंगे और वह गाजा से बाहर किस रास्ते से निकलेंगे.

किस देश से मिलती है गाजा की सीमा?
गाजा की सीमा एक ओर मिस्र से मिलती है और उसके दूसरी तरफ भूमध्य-सागर है. ऐसे में फलस्तीन के लोगों को शरण लेने के लिए रफाह सीमा के जरिए मिस्र पहुंचना होगा. रफाह मिस्र के सिनाई प्रायद्वीप की सीमा पर है. इसके अलावा लोग दक्षिणी गाजा में इजरायल के एकमात्र वाणिज्यिक माल जंक्शन इरेज से भी गाजा के बाहर जा सकते हैं, लेकिन इरेज की सीमा से लोग यरूशलम पहुंचेंगे.

रफाह सीमा पर इकठ्ठा हुए लोग
यह ही वजह कि लोग बड़ी तादाद में रफाह क्रॉसिंग पहुंच रहे हैं. हालांकि, इजरायली गोलाबारी के कारण मिस्र को गाजा पट्टी से जोड़ने वाली रफाह सीमा पर गतिविधि में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनी हुई है और वहां से लोगों का बाहर निकलना काफी चुनौतीपूर्ण बना हुआ है. 

इजरायल ने दिया था गाजा छोड़ने का आदेश
13 अक्टूबर को इजरायल डिफेंस फोर्स ने उत्तरी गाजा निवासियों को क्षेत्र खाली करने के लिए एक नोटिस जारी किया था, जिसके बाद संयुक्त राष्ट्र ने इजरायल को आगाह किया था कि इसके विनाशकारी मानवीय परिणाम होंगे और इतने बड़े पैमाने पर लोगों को स्थानांतरित करना संभव नहीं है. वहीं, इजरायली सेना का दावा है कि गाजावासियों ने उत्तर में आधा हिस्सा खाली कर दिया है.  

हमास के नियंत्रण में गाजा
1948 से 1967 तक गाजा पर मिस्र का नियंत्रण था. हालांकि, मिस्र, जॉर्डन और सीरिया के खिलाफ 1967 के छह दिवसीय युद्ध में जीत के बाद इजरायल ने गाजा पट्टी और वेस्ट बैंक पर अपना नियंत्रण हासिल कर लिया और उस पर अपना कब्जा कर लिया था. 2004 में इजरायल ने गाजा पट्टी पर से अपना कब्जा पूरा तरह से छोड़ दिया था. फिलहाल गाजा हमास के कंट्रोल में हैं.

यह भी पढ़ें- Israel Gaza Attack: गाजा पर तो था इजरायल का कब्जा, फिर छोड़ क्यों दिया?

[ad_2]

Source link

Leave a Comment