गाजा में घुसकर हमास को ऐसे नेस्तनाबूद करेगी इजरायली सेना, डिफेंस मिनिस्टर ने बताए वो तीन प्लान

[ad_1]

Israeli Defence Forces Operation In Gaza: इजरायल में घुसकर फलस्तीन के चरमपंथी संगठन हमास के लड़ाकों के हमले के बाद इजरायली डिफेंस फोर्सेस (IDF) ने पूरी गाजा पट्टी को घेर लिया है और हवाई हमले के साथ ही जमीनी ऑपरेशन की तैयारी में है. इजरायल में घुसकर निर्दोष नागरिकों से हैवानियत करने वाले हमास के एक-एक लड़ाके को ढूंढकर मौत के घाट उतारने की कसम इजरायली बलों के जवानों ने खा ली है. इसके लिए इजरायली सैन्य बलों ने फुलप्रूफ प्लान बनाया है.

इस बीच शुक्रवार (20 अक्टूबर) को इजरायल के रक्षा मंत्री योव गैलैंट गाजा सीमा पर इजरायली सैनिकों के बीच पहुचे. यहां उन्होंने इस बात का खुलासा किया है किस तरह से गाजा में हमास को पूरी तरह से नेस्तनाबूद किया जाएगा. इजरायल के रक्षा मंत्री ने बताया है कि हमास के आतंकियों के खात्मे के लिए तीन चरणों में अचूक हमले किए जाने हैं.

गाजा में घुसेगी इजरायली सेना, हमास के इन्फ्रास्ट्रक्चर को करेगी तबाह

इजरायल के रक्षा मंत्री ने बताया है कि हमले के पहले चरण में गाजा को घेरकर खड़ी इज़राइली सेना अपने टैंकों, तोपों और अन्य अत्याधुनिक हथियारों के साथ गाजा में घुसेगी ओर सबसे पहले हमास के बुनियादी ढांचे को तबाह करने की शुरुआत करेगी.

दरअसल रिपोर्ट्स का दावा है कि गाजा में इजरायली सेना के हमले से बचने के लिए हमास के लड़ाकों ने सुरंगों का जाल बुन रखा है, जिनमें से कई सुरंगें 70 मीटर तक गहरी हैं. इन्हें बंद करना और इनमें छिपे हमास के लड़ाकों को मार गिराना इजरायली सेना का पहला लक्ष्य है.

हमास के हरेक लड़ाके का खात्मा किया जाएगा

ऑपरेशन के दूसरे चरण में हमास के एक लड़ाके को ढूंढ कर मारना शामिल हैं. इसमें फुल प्रूफ प्लानिंग के साथ गाजा में छिप कर रहने वाले हमास के लड़ाकों को ढूंढ ढूंढ कर दोजख रवाना किया जाएगा. इसके लिए इजरायली सेना बहुत आक्रामक रुख नहीं अपनाएगी, बल्कि कम तीव्रता के साथ हमले किए जाएंगे ताकि एक-एक लड़ाके का खात्मा सुनिश्चित किया जा सके.

गाजा की आबादी के प्रति जिम्मेदारी खत्म करेगा इजरायल 

वहीं ऑपरेशन के तीसरे चरण में गाजा पट्टी को हमास से पूरी तरह से मुक्त करने के बाद यहां जन जीवन के प्रति इजरायल की जिम्मेदारी खत्म की जाएगी. यहां रहने वाले नागरिकों को पानी और बिजली की आपूर्ति इजरायल की ओर ही की जाती है. रक्षा मंत्री गैलेंट ने कहा है कि हमले के तीसरे चरण में गाजा में जनजीवन की जिम्मेदारी से इजरायल तौबा कर लेगा और अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए नई व्यवस्था स्थापित करेगा.

पूरी दुनिया से कटा है गाजा

आपको बता दें कि गाजा पट्टी की समुद्र से घिरी 90 फीसदी जमीन पर व्यवस्थाओं को इजरायल नियंत्रित करता है. 2007 में यहां हमास के कब्जे के बाद से इजरायल इस पूरे क्षेत्र पर कठोर नाकेबंदी रखता रहा है और आयात निर्यात पर सख्त प्रतिबंध  है. मिस्र से लगने वाले छोटे बोर्ड को छोड़कर पूरे गाजा पट्टी का बाहरी दुनिया से कोई संपर्क नहीं है.

गत 7 अक्टूबर को इजरायल ने हमास के लड़ाकों के घुसकर हमले के बाद से पिछले 15 दिनों से इजरायली एयर फोर्स हवाई हमले कर एक दर्जन से अधिक हमास के टॉप लीडर्स को मौत के घाट उतार चुकी है. इस हमले में गाजा के अंदर अब तक 4137 लोगों के मारे जाने के दावे किए जा रहे हैं जबकि 12,500 लोग घायल हैं. इजरायल ने अभी तक गाजा में कम से कम नौ हजार टन बम गिराए हैं. जबकि हमास के हमले में इजरायल के 1400 नागरिकों की मौत हो चुकी है.

 ये भी पढ़ें : Israel Hamas war: नहीं रुकी इजरायल-हमास जंग तो तीसरे विश्व युद्ध की सुगबुगाहट तेज, यहां समझिए क्यों चिंता बढ़ा रहा मिडल ईस्ट

[ad_2]

Source link

Leave a Comment