चोट लगने के बाद शरीर पर पड़े नीले निशान तो आजमाएं ये टिप्स, जल्द दिखेगा असर

[ad_1]

Tips for Bruises: खेलते कूदते वक्त या किसी अन्य वजह से जब चोट लगती है तो कई बार खून नहीं निकलता लेकिन शरीर पर नील (Bruises)का निशान पड़ जाता है. ये नीला निशान सूजन और दर्द पैदा करता है. हेल्थ एक्सपर्ट कहते हैं कि शरीर पर चोट लगने पर जब त्वचा के नीचे की छोटी वाली खून की कोशिका डेमेज होती है तो आस पास के टिश्यू से खून रिसता है और नीला निशान त्वचा पर आ जाता है. ऐसे में आप चाह कर भी इसका लंबे समय तक इलाज नहीं कर पाते और ये काफी दुखदायी साबित होता है. कई बार नील का निशान कई हफ्तों तक बना रहता है और इसमें दर्द भी लंबे समय तक रहता है. आपको बता दें कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं की खून की नसें कमजोर होती है और इसीलिए छोटी मोटी चोट लगने पर महिलाओं के शरीर पर नील के निशान ज्यादा पड़ते हैं. ऐसे में हम आपको कुछ घरेलू टिप्स (Tips for Bruises) बता रहे हैं जिनकी मदद से आप इन नील के निशानों से जल्द छुटकारा पा सकेंगे और आपके शरीर में दर्द और सूजन से भी छुटकारा मिल सकेगा. 

 

नील के निशान से राहत पाने में मदद करेंगे ये टिप्स 

 

नील के निशान से दर्द और सूजन को कम करने में आपके किचन में रखी हल्दी आपकी मदद करेगी. हल्दी में एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो त्वचा में सूजन औऱ दर्द से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित होते हैं. नारियल तेल को गर्म करके थोड़ी सी हल्दी डाले और ठंडा होने पर उसे लेप की तरह नील वाली जगह पर लगा लें. इससे नील बहुत जल्दी ठीक होगा. 

 

अरंडी का तेल भी नील के निशान के साथ साथ दर्द और सूजन से छुटकारा दिलाता है. इसके भीतर एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं और इसे त्वचा पर लगाने से ब्लड सर्कुलेशन भी अच्छा हो जाता है. नील वाले निशान पर अरंडी के तेल की नियमित हल्की मालिश से जल्दी ही आपकी चोट ठीक होगी और निशान भी गायब हो जाएगा. 

 

एलोवेरा यूं तो त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है लेकिन इसके साथ साथ एलोवेरा त्वचा पर चोट की वजह से होने वाले दर्द और सूजन को भी कम करता है. इसके अंदर एंटी सैप्टिक और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं. इसे रोज प्रभावित स्थान पर लगाने से चोट का निशान ठीक हो जाएगा.

 

यह भी पढ़ें 

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

[ad_2]

Source link

Leave a Comment