जानिए Youtube के सबसे पहले वीडियो में क्या कहा गया था, इस खास जानवर के बारे में हुई थी बात

[ad_1]

<p>यूट्यूब आज के समय में पूरी दुनिया के लिए मनोरंजन का एक बड़ा साधन है. एक तरफ यहां से करोड़ों लोग अपना मनोरंजन करते हैं तो वहीं दूसरी ओर इसी प्लेटफॉर्म की मदद से लाखों लोग पैसा भी कमाते हैं. आजकल के दौर में यूट्यूबर बनना भी एक पेशा है, जिसमें कई आम नौकरियों के मुकाबले ज्यादा पैसा कमाया जा सकता है. हालांकि, ये प्लेटफॉर्म कब शुरू हुआ था और इस पर पहला वीडियो कौन सा पड़ा था…उसकी कहानी बेहद दिलचस्प है.</p>
<h3>कब हुई थी वीडियो की शुरूआत</h3>
<p>आपको बता दें, यूट्यूब की शुरुआत साल 2005 में स्टीव चेन, चाड हर्ले और जावेद करीम ने की थी. हालांकि, बाद में इन तीनों ने इसे 165 करोड़ डॉलर में गूगल को बेच दिया है. आज इस एप का क्रेज ये है कि इस पर हर महीने 200 अरब से अधिक यूजर्स आते हैं. रिपोर्ट्स की मानें तो लोग यहां रोजाना 1 अरब घंटे से ज़्यादा समय बिताते हैं.</p>
<h3>पहले वीडियो में क्या कहा गया था</h3>
<p>इस प्लेटफॉर्म पर पहला वीडियो साल 2005 में 24 अप्रैल को रात के 8:27 पर डाला गया था. इस वीडियो को डाला था यूट्यूब के को-फाउंडर जावेद करीम ने. इस वीडियो का टाइटल है Me at the ZOO. 19 सेकंड के इस वीडियो में जावेद हाथियों के बारे में बात कर रहे हैं. वो कह रहे हैं, &lsquo;यहां हम हाथियों के सामने हैं. हाथियों के बारे में सबसे अच्छी बात ये है कि इनके पास काफी लंबी सूंड होती है और ये बहुत अच्छा है.&rsquo;</p>
<p>[yt]https://www.youtube.com/watch?v=jNQXAC9IVRw[/yt]</p>
<p>इस वीडियो को अब तक 291 मिलियन से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं. वहीं उनके चैनल को 4.09 मिलियन लोगों ने सब्सक्राइब किया है. वहीं 14 मिलियन लोगों ने इस वीडियो को लाइक किया है. हालांकि, सबसे हैरानी कि बात ये है कि इस चैनल पर इस वीडियो के अलावा दूसरा कोई वीडियो मौजूद नहीं है.</p>
<p><strong>ये भी पढ़ें: <a href="https://www.abplive.com/gk/earthquake-in-delhi-know-why-delhi-feels-earthquake-again-and-again-read-here-reason-behind-this-2520168">फिर हिली धरती… जानिए आखिर दिल्ली में बार-बार क्यों आता है भूकंप?</a></strong></p>

[ad_2]

Source link

Leave a Comment