पहले डेड मैच में पाक गेंदबाजों ने डाली जान, फिर अंपायर का एक फैसला बना पाकिस्तान की हार का कारण

[ad_1]

Pakistan vs South Africa: 2023 वनडे वर्ल्ड कप में शुक्रवार रात पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका के बीच बेहद रोमांचक मुकाबला हुआ. इस मैच में कई उतार-चढ़ाव देखने को मिले. हालांकि, यह मैच पूरे 50 ओवर रोमांचक नहीं रहा. एक समय यह डेड मैच लग रहा था, लेकिन पाक गेंदबाजों ने इस मरे हुए मैच में जान डाली. हालांकि, अंत में अंपायर के एक फैसले की वजह से दक्षिण अफ्रीका ने एक विकेट से बाज़ी मार ली. 

दक्षिण अफ्रीका के इस जीत से छह मैचों में 10 अंक हो गए हैं और वो भारत की जगह प्वाइंट्स टेबल में शीर्ष पर पहुंच गया है. वहीं पाकिस्तान की यह लगातार चौथी हार है और उसके छह मैच में केवल चार अंक हैं, जिससे उसकी सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदों को करारा झटका लगा है. 

पाकिस्तान-दक्षिण अफ्रीका मैच में आए कई उतार-चढ़ाव 

करो या मरो के इस मुकाबले में पाक कप्तान बाबर आजम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. शुरुआती चार ओवर तक यह फैसला सही लगा. ओपनर इमाम उल हक और अब्दुल्ला शफीक सॉलिड टच में दिखे. तब ऐसा लग रहा था कि पाकिस्तान आज विशाल स्कोर खड़ा करेगा.

फिर मार्को यानसेन ने कहर बरपाया और दोनों ओपनर्स को सात ओवर के भीतर ही चलता किया. इसके बाद रिजवान और बाबर ने तेजी के साथ रन बनाए. फिर ऐसा लगने लगा था कि पाक टीम विशाल स्कोर खड़ा कर लेगी. तभी अफ्रीकी गेंदबाजों ने दमदार वापसी की और नियमित अंतराल पर विकेट झटके. 

86 पर दो विकेट से पाकिस्तान का स्कोर 141 पर 5 विकेट हो गया. अब ऐसा लगने लगा था कि पाकिस्तान की टीम मुश्किल से 220 तक पहुंच पाएगी, लेकिन शादाब खान और सऊद शकील ने छठे विकेट के लिए 84 रनों की साझेदारी कर फिर एक बार विशाल स्कोर की उम्मीद जताई. 

42 ओवर में 225 पर स्कोर जब 6 विकेट था, तब ऐसा लगा कि आसानी से स्कोर 300 के पार जाएगा, लेकिन फिर दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों ने पाकिस्तान को 46.4 ओवर में ही 270 के स्कोर पर ऑलआउट कर दिया. 

आसानी से जीत रही थी दक्षिण अफ्रीका 

271 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका ने पहले ओवर में 11 और फिर दूसरे ओवर में 19 रन बनाए. अब ऐसा लगने लगा कि वो आसानी से यह लक्ष्य हासिल कर लेगी. तभी शाहीन अफरीदी ने क्विंटन डिकॉक को चलता कर दिया. 34 पर पहला विकेट गिरा फिर स्कोर 67 तक पहुंचा तो दूसरा विकेट भी गिर गया. तब ऐसा लगा नहीं, इस मैच में अभी जान बाकी है. 

फिर 136 रनों पर चार विकेट हो गए. तब ऐसा लगने लगा कि पाकिस्तान कुछ करेगी और दक्षिण अफ्रीका की हालत खराब हो जाएगी. लेकिन एडन मार्करम और डेविड मिलर ने 69 रनों की साझेदारी कर मैच एकतरफा सा कर दिया. 

33 ओवर में ही चार विकेट के नुकसान पर दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 200 के पार हो गया था. मैच 90 प्रतिशत दक्षिण अफ्रीका की झोली में था, लेकिन फिर पाक गेंदबाजों ने डेड मैच में जान डाल दी. लगातार विकेट झटके और 250 के स्कोर पर 8 विकेट गिरा दिए. अब ऐसा लगा कि यह मैच पाकिस्तान की टीम जीत लेगी, लेकिन होनी को कुछ और ही मंजूर था. 

अंपायर का फैसला रहा पाक की हार का कारण?

46वें ओवर में ही दक्षिण अफ्रीका की टीम ऑलआउट हो सकती थी और पाकिस्तान यह मैच जीत लेती, लेकिन हारिस रऊफ की गेंद पर मैदान अंपायर ने तबरेज शम्सी को LBW आउट नहीं दिया. इसके बाद डीआरएस लेने का फैसला लिया गया. टीवी रिप्ले में देखा गया कि गेंद लेग स्टंप पर जाकर टकरा रही है. हालांकि, गेंद जब स्टंप पर जाकर टकराई तो वो सीधे विकेट पर नहीं लग रही थी, बल्कि उसका कुछ हिस्सा ही स्टंप पर लग रहा था. ऐसे में बॉल ट्रैकिंग में रिजल्ट अंपायर्स कॉल आया. अब जो फैसला मैदानी अंपायर ने दिया था, उसे ही माना गया और तबरेज शम्सी को नॉट आउट दिया गया. अगर मैदानी अंपायर उन्हें आउट देता तो फिर तीसरा अंपायर भी आउट देता और पाकिस्तान की टीम यह मैच जीत जाती. 

[ad_2]

Source link

Leave a Comment