बाइडेन ने बताई इजरायल-हमास युद्ध की वजह, कहा- भारत के ड्रीम प्रोजेक्ट को रोकने के लिए हुआ हमला

[ad_1]

Israel Hamas War: इजरायल-हमास के बीच चल रहे युद्ध को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बड़ा दावा किया है. जो बाइडेन ने कहा है, “उन्हें लगता है कि हमास की ओर से इजरायल पर आतंकवादी हमला करने का एक कारण हाल ही में नई दिल्ली में जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान महत्वाकांक्षी भारत-मध्य पूर्व-यूरोप आर्थिक गलियारे की घोषणा भी हो सकता है.” दरअसल, यह प्रोजेक्ट पूरे क्षेत्र को रेलमार्ग के नेटवर्क से जोड़ता है.

7 अक्टूबर को आतंकवादी समूह हमास की ओर से किए गए हमलों में 1,400 से अधिक इजरायली लोगों की मौत हुई थी. इस हमले के बाद इज़रायल ने हमास के खिलाफ बड़े पैमाने पर जवाबी कार्रवाई शुरू की थी. दोनों के बीच अब भी युद्ध चल रहा है.

आॉस्ट्रेलियाई पीएम के साथ जॉइंट पीसी में कही ये बात

बाइडेन ने ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री एंथनी अल्बानीज़ के साथ एक जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा,  “उन्होंने अपने आप से ये आंकलन किया है और इसके लिए उनके पास कोई सबूत नहीं है. उन्होंने कहा, “मैं इस बात से आश्वस्त हूं कि हमास के आतंकी हमले के पीछे कहीं न कहीं यही एक बड़ा कारण है. हालांकि मेरे पास इसे लेकर सबूत नहीं हैं, लेकिन मेरी अंतरात्मा मुझे यह बता रही है. उन्होंने ये भी कहा कि हम इस प्रोजेक्ट को पीछे नहीं छोड़ सकते.”

एक हफ्ते में दूसरी बार जताई ये आशंका

बता दें कि एक हफ्ते के अंदर यह दूसरी बार है जब जो बाइडेन ने हमास के हमले के संभावित कारण के रूप में भारत-मध्य पूर्व-यूरोप आर्थिक गलियारे (आईएमईईसी) का उल्लेख किया है. इस आर्थिक गलियारे को कई लोग चीन की बीआरआई प्रोजेक्ट के विकल्प के रूप में भी देखते हैं. यह संयुक्त रूप से अमेरिका, भारत, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, फ्रांस, जर्मनी, इटली और यूरोपीय देशों को जोड़ेगा. इसकी घोषणा भारत ने सितंबर में नई दिल्ली में हुए जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान की थी. यह कॉरिडोर दो हिस्सों में होगा. एक हिस्सा पूर्वी गलियारा होगा जो भारत को खाड़ी क्षेत्र से जोड़ेगा, जबकि दूसरा हिस्सा उत्तरी गलियारा होगा जो खाड़ी क्षेत्र को यूरोप से जोड़ेगा.

ये भी पढ़ें

Israel Hamas War: पत्‍नी, बेटा, बेटी, पोता… गाजा में अल जजीरा के पत्रकार के घर में मौत का तांडव

[ad_2]

Source link

Leave a Comment