बाहर नहीं घर के अंदर भी छिपा है प्रदूषण, कर सकता है बीमार, जानें कैसे करें सफाया

[ad_1]

Indoor Pollution : दिल्ली में इन दिनों प्रदूषण का स्तर बढ़ गया है, जो सेहत के लिए खतरनाक बताया जा रहा है. घर से बाहर निकलने से पहले कई तरह के ऐहतियात बरतने की सलाह दी जा रही हैं. हालांकि, इससे भी खतरनाक घर के अंदर छिपा प्रदूषण (Indoor Pollution) होता है, जिसका सफाया करने की सबसे ज्यादा जरूरत होती है. कई अध्ययन में भी यह बात साबित हो चुकी है कि घर के अंदर का पॉल्यूशन सेहत के लिए खतरे से कम नहीं है. चूंकि देश में इन दिनों त्योहारों का माहौल चल रहा है. विजयादशमी बीत चुकी है और अब करवा-चौथ, दीपावली, छठ जैसे त्योहार आने वाले हैं. ऐसे में घर की साफ-सफाई भी शुरू हो गई है. ऐसे में सही तरीके से सफाई कर घर के अंदर के प्रदूषण को बाहर निकाल सकते हैं. आइए जानते हैं कैसे…

 

घर के अंदर के प्रदूषण को करें दूर

घर के अंदर काफी धूल और मिट्टी जमी होती है. केमिकल क्लीनर के इस्तेमाल से भी यह पूरी तरह साफ नहीं हो पाता और सेहत के अनुकूल नहीं बन पाता है. साफ-सफाई में इस्तेमाल होने वाले केमिकल सेंट्रल नर्वस सिस्टम को बाधित कर सकते हैं और कार्सिनोजेन्स भी हो सकते हैं. चूंकि हम घर में रहते हैं, वहीं सांस लेते हैं और खाना खाते हैं. ऐसे में ये ज्यादा खतरनाक हो सकते हैं. कई बार इसकी वजह से फेफड़ों से जुड़ी बीमारी और अस्थमा भी हो सकती है. फ्रिज, एसी, टीवी, लैपटॉप, ट्यूब लाइट, मिक्सी, ओवन जैसे इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स से बाहर निकलती गैस भी सेहत के लिए खतरनाक होती हैं. इसलिए घर के अंदर की हवा को शुद्ध बनाने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए.

 

घर को प्रदूषण मुक्त बनाने के 5 उपाय

 

1. खिड़की-दरवाजे बंद न रखें

हप्ते में किसी एक दिन धूप खिलने के बाद एसी बंद कर सभी दरवाजे-खिडकियां खोल दें. इसके बाद इन पर जमी धूल को साफ करें और हल्के गीले कपड़े से उस जगह को पोंछ दें. कूलर के पानी को बदल दें. साफ-सफाई करते समय मुंह और नाक को जरूर कूर कवर करें. 

 

2. बेडशीट को गर्म पानी से धोएं

हफ्ते में किसी एक दिन घर के बिस्तर, चादर, फर्नीचर कवर को गर्म पानी से अच्छी तरह धोना चाहिए. जो खिलौने धुले जा सकते हैं, उन्हें भी साफ कर अच्छी तरह सुखाएं. इससे वहां पॉल्यूशन करने में मदद मिलेगी.

 

3. फर्नीचर और कोनों की सफाई

सप्ताह में किसी एक दिन फर्नीचर, पर्दे, कालीन पर जमी धूल को भी अच्छी तरह साफ करें. इसके लिए वैक्यूम क्लीनर की मदद लें. साथ ही एयर प्यूरीफायर की मदद से भी घर के अंदर की हवा साफ कर सकते हैं.

 

4. घर में वेंटिलेशन बढ़ाएं

घर के अंदर वेंटिलेशन बढ़ाने पर फोकस करना चाहिए. खिड़की खोलने पर बाहर की हवा, धूल, गाड़ियों का धुआं अंदर आ सकता है. ऐसे में ट्रिकल वेंटिलेशन का इस्तेमाल करें, जो हवा को फिल्टर कर साफ हवा को ही अंदर आने की इजाजत देता है.

 

5. एयर फिल्टर का इस्तेमाल

घर के अंदर साफ हवा पाने और पॉल्यूशन से दूर रहने के लिए हाई पोटेंशियल वाले पार्टिकुलेट एयर फिल्टर का ही इस्तेमाल करें. इससे घर का प्रदूषण खत्म होगा और एसी ज्यादा अच्छी हवा दे पाएगा.

 

ये भी पढ़ें

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

[ad_2]

Source link

Leave a Comment