वीजा सेवा दोबारा शुरू करने के फैसले पर कनाडा का रिएक्शन, भारत के कदम को बताया अच्छा सिग्नल

[ad_1]

Canada-India Diplomatic Row: कनाडा (Canada) और भारत (India) के बीच जारी राजनयिक तनाव के बीच कनाडा में स्थित भारतीय उच्चायोग ने वीजा प्रोसेसिंग फिर से शुरू करने का फैसला लिया है. इस फैसले का कनाडा ने स्वागत किया है. कनाडा ने इस फैसले को एक अच्छा संकेत बताया. आपको बता दें कि कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो ने कनाडा में खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के पीछे भारत का हाथ होने का आरोप लगाया था. इस आरोप के बाद भारत के रिश्ते कनाडा के साथ खराब हो गए.

भारत ने कनाडा के आरोपों को बेतुका बताकर खारिज कर दिया था. इसके अलावा भारत ने कनाडा के अधिकारियों को भारत छोड़ने का आदेश दे दिया और साथ-ही-साथ पिछले महीने तनाव बढ़ने के कारण भारत ने कनाडा और दुनिया भर में कनाडाई नागरिकों के लिए वीजा सेवाओं को निलंबित करने का फैसला लिया था.

कनाडा के मिनिस्टर ने फैसले पर दिया बयान
भारत के तरफ से वीजा प्रोसेसिंग को दोबारा शुरू करने के फैसले पर कनाडा के इमीग्रेशन मिनिस्टर मार्क मिलर ने बुधवार (25 अक्टूबर) को भारत के कदम को एक अच्छा संकेत बताया. CTV न्यूज ने मार्क मिलर के हवाले से बताया कि हमारी भावना ये है कि निलंबन पहले कभी नहीं होना चाहिए था. उन्होंने कहा कि भारत के साथ वास्तव में चिंताजनक राजनयिक स्थिति ने कई समुदायों में बहुत डर पैदा कर दिया है.

इसके अलावा भारत के वीजा सेवा को दोबारा शुरू करने के फैसले पर मंत्री हरजीत सज्जन ने कहा कि वीजा प्रक्रिया फिर से शुरू होना अच्छी खबर है, लेकिन वह इस पर अटकलें नहीं लगाएंगे कि भारत क्या संदेश भेजने की कोशिश कर रही है. हरजीत सज्जन ने संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा कि ये देखकर अच्छा लगा कि उन्होंने (भारत) ने इसे फिर से शुरू कर दिया है.

वीजा से जुड़े कई तरह की सेवाएं
आपको बता दें कि भारत ने एंट्री वीजा, बिजनेस वीजा, मेडिकल वीजा और कॉन्फ्रेंस वीजा से जुड़ी सेवाएं फिर से शुरू करने का फैसला लिया है. इस पर हरजीत सज्जन ने कहा कि ये महत्वपूर्ण है कि जब शादी और अंतिम संस्कार जैसे कार्यक्रमों की बात हो तो भारतीय और कनाडाई लोग आ-जा सकते हैं. उन्होंने कहा कि कनाडा अभी भी भारत से मदद मांग रहा है, क्योंकि पुलिस हरदीप सिंह निज्जर की हत्या की जांच कर रही है.

ग्लोबल अफेयर्स कनाडा (GAC) विभाग के राजनयिक और कांसुलर संबंधों का प्रबंधन करता है. इसके प्रवक्ता मैरीलीन ग्वेरमोंट ने CBC न्यूज को बताया कि GAC भारत सरकार के कनाडाई लोगों के लिए वीजा प्रसंस्करण की कुछ श्रेणियों को फिर से शुरू करने के फैसले से अवगत है. ग्वेरमोंट ने कहा कि कनाडा और भारत लोगों के बीच महत्वपूर्ण संबंध साझा करते हैं और भारत की वीजा सेवाओं की बहाली से परिवारों और व्यवसायों के लिए हमारे देशों के बीच यात्रा करना आसान हो जाएगा.

ये भी पढ़ें: Iranian Activist: कौन है शिलान मिरजई जिनसे तुर्किए की राष्‍ट्रीय सुरक्षा पड़ गई खतरे में, घसीटकर उठा ले गई पुलिस, ईरान देगा फांसी?



[ad_2]

Source link

Leave a Comment