वेस्ट बैंक में इजरायल ने की एयरस्ट्राइक, गाजा में पहुंचने लगी मदद… पढ़ें युद्ध के अपडेट्स

[ad_1]

Israel-Hamas War News: इजरायल-हमास युद्ध को दो हफ्ते पूरे हो चुके हैं. इस युद्ध की वजह से मिडिल ईस्ट में एक बार फिर से अशांति पैदा हो गई है. सिर्फ इतना ही नहीं, बल्कि ये युद्ध फलस्तीनी लोगों के लिए बड़ी मुसीबत बनकर आया है. हमास के हमले के बाद इजरायल ने गाजा पट्टी पर जिस तरह से बमबारी की है, उसने दुनिया को हैरान करके रख दिया है. एक वक्त लोगों की चहल-पहल से गुलजार रहने वाला गाजा इन दिनों धूल में तब्दील हो चुका है. 

गाजा में इजरायली एयरस्ट्राइक में अब तक 4385 फलस्तीनियों की मौत हो चुकी है. हमास ने 7 अक्टूबर को इजरायल में घुसकर और उसके ऊपर रॉकेट्स से हमला किया. इस हमले में 1400 से ज्यादा लोगों की जान चली गई. हमले के बाद ही इजरायल-हमास युद्ध की शुरुआत हुई. इजरायल का कहना है कि वह हमास को पूरी तरह से खत्म करके रहेगा. ऐसे में आइए आपको इजरायल-हमास युद्ध से जुड़े 10 बड़े अपडेट्स बताते हैं. 

  • इजरायल ने कब्जे वाले वेस्ट बैंक में जेनिन शरणार्थी कैंप पर एयरस्ट्राइक की है. ये हमला रविवार तड़के किया गया, जिसमें दो फलस्तीनी मेडिकल वर्कर्स की मौत हो गई है, जबकि कई लोग घायल हुए हैं. इजरायल का कहना है कि वह इस्लामिक जिहाद के साथ-साथ हमास के लड़ाकों को निशाना बना रहा था. 
  • इजरायल डिफेंस फोर्स (IDF) ने कहा है कि वह गाजा पट्टी पर हमले को बढ़ाने वाले हैं. इसकी शुरुआत रविवार से हो जाएगी. सेना के प्रवक्ता डैनियल हगारी ने कहा कि हम युद्ध के अगले फेज में अपनी सेना को होने वाले नुकसान से बचाने की कोशिश करेंगे. लोगों से कहा गया है कि वे दक्षिण की ओर चले जाएं. 
  • गाजा में फलस्तीनी लोगों की मदद के लिए मानवीय मदद पहुंचने लगी है. शनिवार को मिस्र के राफा बॉर्डर के जरिए गाजा में 20 ट्रकों में भरे ही राहत सामाग्री को फलस्तीनियों तक पहुंचाया गया. हालांकि, संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि ये ऊंट के मुंह में जीरे के बराबर की गई मदद है. 
  • मिस्र ने इजरायल-हमास युद्ध को लेकर एक समिट का आयोजन किया, जिसमें वैश्विक शक्तियां शामिल हुईं. हालांकि, इसमें इजरायल, ईरान और अमेरिका नदारद रहे. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतारेस ने संघर्षविराम की मांग की. लगभग सभी ने युद्ध रोकने की अपील की है. 
  • इजरायल डिफेंस फोर्स के चीफ ऑफ स्टाफ हार्जी हालावी ने कहा कि सेना हमास को जड़ से मिटाने का अभियान शुरू करेगी. उन्होंने कहा कि हम लोग गाजा पट्टी में घुसेंगे. यहां ऑपरेशन की शुरुआत करेंगे और हमास के ठिकानों को नेस्तनाबूद कर देंगे. 
  • फलस्तीन के समर्थक में दुनियाभर में लोगों को प्रदर्शन करते हुए देखा गया है. ऐसा ही कुछ ब्रिटेन की राजधानी लंदन में शनिवार को देखने को मिला. शहर की पुलिस के मुताबिक, एक लाख से ज्यादा लोगों ने फलस्तीन के समर्थन में सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन किया. 
  • फलस्तीनी अथॉरिटी के प्रधानमंत्री मोहम्मद शतायेह ने कहा कि वह हमास के हमले की निंदा नहीं करेंगे. उनका कहना है कि ऐसा करना इजरायल को लोगों को मारने के लिए लाइसेंस देने जैसा है. उन्होंने ये भी कहा कि मुझे लगता है कि अमेरिका को भी ऐसा नहीं करना चाहिए. 
  • UNICEF ने कहा है कि वह राफा क्रॉसिंग के जरिए गाजा में 22 हजार लोगों के लिए पानी पहुंचाने में सफल रहा है. इसने बताया कि कुल मिलाकर 44 हजार पानी की बोतल को लोगों तक पहुंचाया गया है, जो 22 हजार लोगों के लिए काफी है. 
  • फलस्तीन अथॉरिटी के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने मिस्र में हुए समिट में सबके सामने खुले तौर पर कह दिया कि वह अपनी जमीन नहीं छोड़ने वाले हैं. फलस्तीनी अपनी जमीन पर रहने वाले हैं. अब्बास वेस्ट बैंक में सरकार चलाते हैं. 
  • संयुक्त राष्ट्र की OCHA एजेंसी ने बताया कि गाजा में मौजूद अस्पताल बर्बादी की कगार पर खड़े हैं. अस्पतालों की क्षमता से ज्यादा मरीज इलाज के लिए कतार में खड़े हुए नजर आ रहे हैं. लोगों को अस्पतालों के फर्श और गलियारों में लेटकर इलाज करवाते हुए देखा गया है. 

यह भी पढ़ें: ‘बसों में भरकर भेज दूंगा गाजा, हमारा टेस्ट मत लो’, आखिर क्यों अपने ही नागरिकों पर भड़के इजरायली पुलिस चीफ ने कही ये बात?

[ad_2]

Source link

Leave a Comment