सेबी ने चार्ट का बाप नाम से ऑपरेट करने वाले फाइनेंशियल फ्लूएंसर पर लगाया बैन

[ad_1]

SEBI Order: शेयर बाजार के रेग्यूलेटर सिक्योरिटीज एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया, सेबी ने मोहम्मद नसीरुद्दीन अंसारी पर सिक्योरिटीज मार्केट में डील करने पर प्रतिबंध लगा दिया है जो खुद को सोशल मीडिया पर बाप का चार्ट कहा करता था. इस फाइनेंशियल फ्लूएंसर के खिलाफ मिली शिकायतों के बाद सेबी ने बुधवार 25 अक्टूबर 2023 को एक अंतरिम आदेश जारी कर शेयर बाजार में किसी भी प्रकार की डील करने पर बैन लगा दिया है. सेबी ने नसीरुद्दीन अंसारी को बाजार में अनैतिक रूप से कमाये गए 17.2 करोड़ रुपये जमा कराने के आदेश भी दिए. 

सेबी के होल-टाइम डायरेक्टर अनंत नारायण जी ने अपने अंतरिम आदेश में कहा कि सिक्योरिटीज मार्केट से जुड़े कोर्स मुहैया कराने की आड़ में नासिर प्राइवेट ग्रुप्स में क्लाइट्स को शेयरों को लेकर अपने सुझाव देकर क्लाइंट्स को शेयर बाजार में मोटा मुनाफा का झांसा देकर लुभाया करता था. नसीरुद्दीन अंसारी के यूट्यूब चैनल के 4.43 लाख सब्सक्राइबर्स हैं जबकि एक्स (ट्विटर) पर 78,000 फॉलोअर्स हैं. 

मोहम्मद नसीरुद्दीन अंसारी अनरजिस्टर्ड इंवेस्टमेंट एडवाइजरी चलाया करता था. सेबी के मुताबिक नसीरुद्दीन अंसारी अलग अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर खुद को स्टॉक मार्केट एक्सपर्ट के तौर पर पेश किया करता था. वो निवेशकों को शेयर बाजार से जुड़े खुद के एजुकेशनल कोर्स में एनरॉल करने के लिए कहा करता था. साथ ही निवेशकों को इस भरोसे के साथ कि उन्हें मोटा मुनाफा होगा शेयर बाजार में निवेश करने के लिए कहता था. सेबी ने अपनी जांच में पाया कि एक डनवरी 2021 से 7 जुलाई 2023 तक उसे 2.89 करोड़ रुपये का ट्रेडिंग लॉस हुआ है जबकि वो क्लेम करता था कि उसे 20 से 30 फीसदी का मुनाफा हुआ है. 

नसीरुद्दीन अंसारी सेबी के अगले आदेश तक प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर शेयर बाजार में कोई खऱीदारी बिकवाली के साथ किसी भी प्रकार की डील अब नहीं कर सकेगा. सेबी ने बाप ऑफ चार्ट (Baap of Chart) को किसी भी शेड्यूल कमर्शियल बैंक में एस्क्रो अकाउंट खोलकर 15 दिनों के भीतर 17.2 करोड़ रुपये जमा करने को कहा है. 

ये भी पढ़ें 

Real Estate Sector: नवरात्रि के शुभ मुहूर्त के दौरान मुंबई में प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन में 37% का जोरदार उछाल, हर दिन 510 यूनिट्स की हुई रजिस्ट्री

[ad_2]

Source link

Leave a Comment