‘हमारे पास सेमीफाइनल में जगह बनाने का मौका…’, इंग्लैंड को हराने के बाद श्रीलंकाई कप्तान बोले

[ad_1]

England vs Sri Lanka: 2023 वर्ल्ड कप में पिछले विश्व कप विजेता इंग्लैंड का खराब प्रदर्शन लगातार जारी है. गुरुवार को जोस बटलर की टीम को श्रीलंका ने भी हरा दिया. श्रीलंका ने इंग्लैंड को 8 विकेट से धूल चटाई. इंग्लैंड को हराने के बाद श्रीलंकाई कप्तान कुसल मेंडिस ने सेमीफाइनल को लेकर बड़ा दावा कर दिया. 

इंग्लैंड के खिलाफ एकतरफा जीत से आत्मविश्वास से भरे श्रीलंका के कप्तान कुसल मेंडिस ने उम्मीद जताई कि उनकी टीम 2023 वर्ल्ड कप के बाकी बचे मैचों में अच्छा प्रदर्शन करके सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रहेगी. श्रीलंका ने इंग्लैंड को 156 रन पर ढेर करने के बाद आठ विकेट से जीत दर्ज की. इस विश्व कप में श्रीलंकाई टीम की पांच मैच में यह दूसरी जीत रही. 

श्रीलंकाई कप्तान ने किया सेमीफाइनल में पहुंचने का दावा

श्रीलंकाई कप्तान कुसल मेंडिस ने मैच के बाद कहा, “नेट रन रेट में सुधार हमारे लिए काफी अच्छा है. शुरुआती कुछ ओवरों में हमने काफी अच्छा किया और फिर इसे जारी रखा. सभी ने आज काफी अच्छा प्रदर्शन किया. हमें चार मैच और खेलने हैं, मुझे लगता है कि अगर हम एकजुट होकर इस तरह का प्रदर्शन और कर पाएं तो हमारे पास सेमीफाइनल में जगह बनाने का मौका होगा.”

लाहिरू कुमारा और वापसी कर रहे एंजेलो मैथ्यूज ने 1996 के चैंपियन श्रीलंका के लिए मिलकर पांच विकेट चटकाए. मेंडिस ने कहा, “उसे (कुमारा) अपनी भूमिका पता है. वह हमारा मुख्य तेज गेंदबाजी हथियार है और उसने आज शानदार गेंदबाजी करके मैच को नियंत्रित किया. वह (मैथ्यूज) इतना अधिक अनुभवी है. वह बीच के ओवरों में काफी मदद करता है. वह बल्लेबाजी और गेंदबाजी कर सकता है. वह खेल का लुत्फ भी उठाता है. वह जानता है कि दबाव की स्थिति से कैसे निपटना है, इसलिए उसका होना अच्छा है. आज क्षेत्ररक्षण भी शानदार रहा. हमें अगले कुछ मैचों में भी ऐसा ही करना होगा.”

जानिए क्या बोले इंग्लिश कप्तान जोस बटलर?

इंग्लैंड के कप्तान जोस बटलर ने स्वीकार किया कि टूर्नामेंट उनके लिए बेहद निराशाजनक रहा है. टीम प्वाइंट्स टेबल में 10 टीम के बीच नौवें स्थान पर चल रही है. श्रीलंका से हार के बाद इंग्लैंड के कप्तान जोस बटलर ने कहा, “यह बेहद कड़ा और निराशाजनक टूर्नामेंट रहा है. मैं स्वयं से और सभी खिलाड़ी निराश हैं कि वे उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए. इस समय इसका कोई स्पष्ट जवाब नहीं है.”

बटलर को यह स्वीकार करने में कोई दिक्कत नहीं है कि वह आगे बढ़कर अगुआई करने में विफल रहे, लेकिन उनके साथी खिलाड़ी भी नाकाम रहे. उन्होंने कहा, “हमारे पास काफी अनुभवी क्रिकेटर हैं, आत्मविश्वास से भरे. आप रातों रात खराब खिलाड़ी नहीं बन जाते, आप रातों रात खराब टीम नहीं बन जाते. मुझे लगता है कि यही सबसे बड़ी हताशा है कि हम अब तक अपनी सर्वश्रेष्ठ क्षमता के अनुसार नहीं खेल पाए और इसका कोई स्पष्ट कारण नहीं है. इस समय किसी पर अंगुली नहीं उठा सकता.”

[ad_2]

Source link

Leave a Comment