हमास के चंगुल से छूटीं अमेरिकी मां-बेटी को लेकर नेतन्याहू से लेकर बाइडेन तक ने क्या कहा?

[ad_1]

Israel Hamas War: दक्षिणी इजरायल पर 7 अक्टूबर को हमास की ओर से किए गए हमले के बाद इजरायली सेना की जवाबी कार्रवाई से शुरू हुई जंग के 14वें दिन चरमपंथी संगठन ने बंधक बनाए गए दो अमेरिकियों को छोड़ दिया. ये दोनों मां और बेटी हैं. मां का नाम जुडिथ रानन और उनकी बेटी का नाम नताली है. न्यूज एजेंसी एपी के मुताबिक इजरायल ने भी अमेरिकी मां-बेटी के हमास के चंगुल से छूटने की पुष्टि की है.

बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, मां-बेटी गाजा के करीब दक्षिणी इजरायल में नाहल ओज किबुत्ज में अपने रिश्तेदारों से मिलने गई थीं, जब 7 अक्टूबर के हमलों में हमास की ओर से उनको अगवा कर लिया गया था.

बेंजामिन नेतन्याहू और जो बाइडेन ये बोले

शनिवार (21 अक्टूबर) को इजरायली प्रधानमंत्री के आधिकारिक X हैंडल से पोस्ट किया गया, ”आज शाम जुडिथ ताई रानन और उनकी बेटी नताली शोशना रानन को आतंकवादी संगठन हमास ने छोड़ दिया.”

इजरायली प्रधानमंत्री के कार्यालय के एक बयान में कहा गया कि ब्रिगेडियर जनरल गैल हिर्श और अन्य सुरक्षा बलों ने गाजा पट्टी की सीमा पर उनका (मां-बेटी) स्वागत किया और इस समय वे देश के केंद्र में एक सैन्य अड्डे पर एक मीटिंग प्वाइंट की ओर जा रहे हैं, जहां उनके परिवारवाले उनका इंतजार कर रहे हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भी मां-बेटी के हमास के चंगुल से छूटने पर खुशी जताई और एक्स पर पोस्ट किया, “इजराइल के खिलाफ भीषण आतंकवादी हमले के दौरान हमास की ओर से बंधक बनाए गए दो अमेरिकियों की रिहाई हमने सुनिश्चित कर ली है. हमारे साथी नागरिकों ने पिछले 14 दिनों में एक भयानक परीक्षा सहन की है और मुझे बहुत खुशी है कि वे जल्द ही अपने परिवार से मिलेंगे.”

मां-बेटी को छोड़ने को लेकर हमास ने क्या कहा?

एपी के मुताबिक, हमास ने शुक्रवार (20 अक्टूबर) को कहा कि वह दो अमेरिकी नागरिकों को छोड़ रहा है, जिन्हें उसने 7 अक्टूबर को इजरायल पर हमले के बाद से गाजा में बंधक बनाकर रखा था. हमास ने एक बयान में कहा कि वह मानवीय कारणों से कतर सरकार के साथ एक समझौते के तहत मां और बेटी को छोड़ रहा है.

अमेरिकी विदेश मंत्री क्या बोले?

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा कि वह दो बंधकों के छूटने पर उनका स्वागत करते हैं लेकिन अभी बच्चों और बुजुर्गों समेत कई और लोग बंधक हैं. उन्होंने कहा कि बाकी बंधक भी अपने प्रियजनों के पास वापस घर लौट सकें, इसके लिए पूरी अमेरिकी सरकार हर दिन हर मिनट काम करेगी. ब्लिंकन ने बंधकों की रिहाई सुनिश्चित करने में कतर सरकार के काम के लिए उसे धन्यवाद भी दिया है.

अन्य बंधकों के छूटने की जगी आस

हमास ने जिन मां-बेटी को छोड़ा है उनके पास इजरायली नागरिकता भी है. 200 से ज्यादा लोगों को हमास ने अब भी बंधक बना रखा है. अन्य बंधकों के रिश्तेदारों को भी उनके छूटने की आस जगी है. उन्होंने अमेरिकी मां-बेटी को छोड़े जाने का स्वागत किया है, साथ ही अन्य लोगों को भी छोड़ने की अपील की है. एक बयान में आह्वान किया गया है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय और विश्व नेता सभी बंधकों और लापता लोगों को छुड़ाने के लिए अपनी पूरी ताकत लगाएं.

यह भी पढ़ें- Israel Hamas War: ‘नकबा की कड़वी यादें जैसी…’, इजरायली एयरस्ट्राइक के बाद दक्षिणी गाजा में टेंट में रह रहे लोगों ने सुनाई आपबीती



[ad_2]

Source link

Leave a Comment