हैलोवीन कब? 30 या 31 अक्टूबर, जानें क्यों मनाते हैं हैलोवीन और इसकी सही डेट

[ad_1]

Halloween 2023 Date: हैलोवीन हर साल 31 अक्टूबर, मंगलवार को मनाया जाता है. पश्चिम देशों में मनाया जाने वाले ये फेस्टिवल अब भारत में तेजी से लोगों को लुभा रहा है. इस फेस्टिवल के बारे में लोगों की जानने की इच्छा और प्रबल होती जा रहा है. आखिर क्यों इस दिन लोग भूतिया गेटअप में घूमते हैं, क्यों इस दिन बच्चे कहते हैं ट्रिक औक ट्रीट (Trick or Treat). आखिर क्यों मनाया जाता है ये फेस्टिवल, जानें इस का इतिहास.

क्रिसमस के बाद अगर ईसाईयों का कोई प्रमुख त्योहार है तो वो है हैलोवीन, हैलोवीन में लोग भूतिया गेटअप में नजर आते हैं. ऐसा माना जाता है इस दिन मरे हुए लोगों की आत्माएं धरती पर प्रकट होती है और जीवित लोगों के लिए परेशानी खड़ी करती है. इसीलिए बुरी आत्माओं को डराने के लिए लोग भूतियां कॉस्ट्यूम में नजर आते हैं.ताकि वो भाग जाएं. हर जगह आग जलाना और उसमें मरे हुए जानवरों की हड्डियां फेंकी जाती हैं.

इस दिन बच्चे एक दूसरे और अड़ोस-पड़ोस के घरों में जाकर ट्रिक और ट्रीट कहते हैं, आपस में कैंडी और केक शेयर करते हैं. इस दिन कद्दू (Pumpkin)का भी बहुत महत्व है.  ऐसा माना जाता है किसानों की मान्यता के अनुसार इस दिन बुरी आत्माएं खेत में आकर उनकी फसल को नुकसान पहुंचा सकती हैं इसीलिए कद्दू में कैंडिल जाकर आत्माओं को रास्ता दिखाया जाता है, या घर के बाहर लटका दिया जाता है, ताकि बुरी आत्माएं घर में प्रवेश ना कर पाएं. इसके बाद कद्दू को जमीन में दबा दिया जाता है.

इस दिन को ईसाई समुदाय में 31 अक्टूबर को सेल्टिक कैलेंडर का आखिरी दिन माना जाता है. वहीं अगले दिन से नए वर्ष की शुरुवात होती है. 1 नंवबर को ऑल सेंट्स डे कहा जाता है.ऑल सेंट्स डे के एक दिन पहले  यानि ईव पर हैलोवीन ईव मनाई जाती है.

23-29 अक्टूबर 2023 पंचांग: दशहरा से शरद पूर्णिमा तक 7 दिन के शुभ मुहूर्त, राहुकाल, यहां जानें

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.

[ad_2]

Source link

Leave a Comment