Economic Trouble: 65 साल से ऊपर के 50 फीसदी बुजुर्ग तलाश रहे नौकरी, इस देश में हालत हुए खराब 

[ad_1]

<p style="text-align: justify;"><span style="font-weight: 400;"><strong>Economic Trouble:&nbsp;</strong>पढ़ाई-लिखाई पूरी करने के बाद जवानी में हर इंसान मेहनत करके पैसा कमाता है ताकि वह सुकून से अपना बुढ़ापा गुजार सके. इसीलिए रिटायरमेंट की उम्र भी 60 वर्ष रखी गई है. मगर, इस समय लोगों पर आर्थिक दबाव और महंगाई की मार पड़ रही है. इसे झेल पाना हर किसी के बस की बात नहीं है. प्राइवेट जॉब में पेंशन न होने के चलते लोगों को बुढ़ापे में काफी समस्याओं को झेलना पड़ता है. ऐसा ही कुछ दक्षिण कोरिया में हो रहा है, जहां की लगभग आधी वृद्ध आबादी नौकरियों की तलाश कर रही है. यह चौंकाने वाला खुलासा सरकार द्वारा जारी आंकड़ों से हुआ.&nbsp;</span></p>
<h3 style="text-align: justify;"><strong>काम तलाश रहे हैं बुजुर्ग&nbsp;</strong></h3>
<p style="text-align: justify;"><span style="font-weight: 400;">आंकड़ों के अनुसार दक्षिण कोरिया में 65 साल से ज्यादा उम्र के आधे बुजुर्ग नौकरियां करना चाहते हैं. इनमें से लगभग 20 फीसदी लोगों ने इस दौरान नौकरियों की तलाश भी की. इस सर्वे के नतीजों से पता चलता है कि 65 से 79 वर्ष के 55.7 फीसदी बुजुर्ग आर्थिक चुनौतियों से परेशान हैं और वो काम करना चाहते हैं. इससे एक साल पहले यही आंकड़ा 54.8 फीसदी था. साल 2013 से अगर तुलना करें तो उस समय नौकरी तलाश कर रहे बुजुर्गों का आंकड़ा सिर्फ 43.6 फीसदी था.&nbsp;</span></p>
<h3 style="text-align: justify;"><strong>सर्वे के नतीजे परेशान करने वाले&nbsp;</strong></h3>
<p style="text-align: justify;"><span style="font-weight: 400;">कोरिया एम्प्लॉयमेंट इन्फॉर्मेशन सर्विस (KEIS) ने बताया कि सर्वे के आधार पर जो विश्लेषण किया. उसमें हैरान करने वाले नतीजे आए हैं. बुजुर्गों में पैसा कमाने की जरूरत बढ़ती ही जा रही है. साल 2013 से लेकर अब तक 10 सालों में नौकरी की चाहत रखने वाले उम्रदराज लोगों का आंकड़ा 12.1 फीसदी उछल चुका है. यह चिंताजनक आंकड़ा है.&nbsp;</span></p>
<h3 style="text-align: justify;"><strong>वृद्ध महिलाएं भी नौकरी के लिए भटक रहीं&nbsp;</strong></h3>
<p style="text-align: justify;"><span style="font-weight: 400;">यदि KEIS रिपोर्ट के अन्य नतीजों पर नजर डालें तो पता चलेगा कि नौकरी की तलाश कर रहे बुजुर्गों में 65 फीसदी पुरुष और 47 फीसदी महिलाएं हैं. इनसे बातचीत में जो कारण निकलकर सामने आया वह हैरान कर देने वाला था. ये सभी सिर्फ आर्थिक चुनौतियों के चलते नौकरी तलाशने को मजबूर हो रहे हैं. पिछले एक साल में 19 फीसदी पुरुष और 18 फीसदी बुजुर्ग महिलाएं नौकरी की तलाश में निकले हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार को कम पढ़े-लिखे बुजुर्गों के लिए नौकरियों की व्यवस्था करनी चाहिए ताकि वह अपना जीवन यापन कर सकें.</span></p>
<p><strong>खेलें इलेक्शन का फैंटेसी गेम, जीतें 10,000 तक के गैजेट्स 🏆</strong><br /><strong>*T&amp;C Apply</strong><br /><strong><a href="https://bit.ly/ekbabplbanhin" rel="nofollow">https://bit.ly/ekbabplbanhin</a></strong></p>
<p><strong>ये भी पढ़ें</strong></p>
<p style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/business/indian-airliners-are-doing-well-in-domestic-market-but-they-should-do-better-in-international-travel-2552374"><strong>Aviation Sector: घरेलू मार्केट में सुपरहिट और इंटरनेशनल रूट पर फ्लॉप हैं एयरलाइन्स&nbsp;</strong></a></p>

[ad_2]

Source link

Leave a Comment