Newborn की इन आदतों से ना हों परेशान, लगती हैं अजीब लेकिन होती हैं बिल्कुल नॉर्मल

[ad_1]

Parenting Tips : नए बच्चे का जन्म सबसे सुखद अनुभव होता है. छोटे बच्चे कि किलकारी घर में खुशियां ला देती हैं. नन्‍हे मुन्‍ने के साथ बीतने वाला एक-एक पल पैरेंट्स के लिए खास होता है. मां उनकी हर दिन की आदतों से परिचित होती हैं लेकिन छोटे बच्चे कुछ ऐसी हरकतें (Newborn Habits) करते हैं, जो बेहद अजीब लग सकती हैं. हालांकि, ये बेहद नॉर्मल होती हैं. एक्सपर्ट्स का मानना है कि बच्‍चों में वास्‍तव में कुछ चीजें अजीब सी लग सकती हैं, लेकिन ये नॉर्मल होती है. इसलिए पैरेंट्स को ज्यादा चिंता नहीं करनी चाहिए.  पीडियाट्रिशियन डॉ. अर्पित गुप्‍ता ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो पोस्‍ट कर बच्चों की ऐसी ही 5 अजीब आदतों के बारें में बताया है…

 

तिरछी आंखें

बच्‍चों की आंखों में अगर तिरछापन या भेंगापन नजर आए तो चिंता न करें, ये बेहद सामान्य है. जब बच्‍चे की मांसपेशियां बनती हैं तो 6 महीने बाद ये अपने आप ही ठीक हो जाती हैं. इसलिए पैरेंट्स को इसकी चिंता नहीं करनी चाहिए.

 

पेशाब से पहले रोना

कुछ छोटे बच्‍चे ऐसे होते हैं जो पेशाब करने से पहले बहुत ही ज्यादा रोते हैं. ऐसे में पैरेंट्स परेशान हो जाते हैं लेकिन चिंता नहीं करनी चाहिए. लेकिन अगर बच्चा पेशाब करते समय रोता है यह कुछ गड़बड़ होने का संकेत हो सकता है. ऐसा होने पर बिना देर किए डॉक्टर के पास बच्चे को लेकर जाना चाहिए.

 

​शरीर पर ज्यादा बाल

जन्‍म के समय ही कुछ बच्चों के शरीर पर बहुत अधिक बाल होते हैं. इसे लैनुगो कहते हैं. लेकिन ये चिंता की बात नहीं है क्योंकि यह बेहद नॉर्मल होता है. शरीर पर ज्यादा बाल होने से स्किन की रक्षा होती है. अधिक बाल गर्भाशय में बच्चों को गर्म रखने में भी मदद करते हैं. लैनुगो वर्निक्स को त्वचा से चिपकाने का काम करता है. एक्सपर्ट बताते हैं कि ये बाल कुछ समय बाद अपने आप ही चले जाते हैं. कुछ लोग बच्चों के बाल हटाने के लिए आटे की लोई का इस्तेमाल करते हैं, उन्हें ऐसा करने की आवश्यकता नहीं है.

 

कुछ खाने के तुरंत बाद पॉटी करना

कुछ बच्चे खाने के तुरंत बाद ही पॉटी करते हैं. ज्यादातर पैरेंट्स इससे परेशान हो जाते हैं. उन्हें लगता है कहीं बच्चे का पेट तो नहीं खराब है या उन्हें खाना पचाने में दिक्कत हो रही है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर बच्चा इस दौरान एक्टिव है और सही से दूध पी रहा है तो इसका मतलब वह पूरी तरह हेल्दी है.

 

हिचकी आना

कई नवजात को जन्म से ही हिचकी आती रहती है. इससे बच्चे को कोई नुकसान नहीं होता है. छोटे बच्चों में हिचकी का एक कारण उन्हें दूध पिलाने के दौरान या बाद में सीधे बैठाना है. एक्सपर्ट्स बताते हैं कि ब्रेस्‍ट या फॉर्मूला मिल्‍क पिलाने के बाद बच्चों को कंधे पर लेकर डकार दिलाना चाहिए.

 

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.

 

ये भी पढ़ें

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

[ad_2]

Source link

Leave a Comment