Wedding Season: शादियों का सीजन शुरू, अगर ऐसे खरीदेंगे सोना तो बाद में पछताना नहीं पड़ेगा

[ad_1]

Gold Buying Tips: दीपावली के बाद देवउठनी एकादशी के साथ ही भारत में शादियां शुरू हो जाती हैं, जो कि अप्रैल तक होती रहती हैं. एक अनुमान के मुताबिक, इस सीजन में देशभर में लगभग 40 लाख शादियां होंगी और जमकर सोना बिकेगा. गोल्ड शादियों का एक अहम हिस्सा है. हम हिंदुस्तानी पूरी दुनिया में इस पीली धातु के प्रति अपने प्रेम के लिए जाने जाते हैं. इसलिए, शादियां गोल्ड के बिना होने की कल्पना भी नहीं की जा सकती. अगर आप भी इस वेडिंग सीजन गोल्ड ज्वेलरी खरीदने का मन बना चुके हैं तो पूरी तैयारी के साथ बाजार जाना होगा ताकि सबसे अच्छे रेट में बढ़िया गोल्ड ज्वेलरी आपको मिल जाए. 

कैसे तय होती है सोने की शुध्दता

सोने की शुद्धता को कैरेट में मापा जाता है. सबसे शुद्ध सोना 24 कैरेट का होता है. हालांकि, सोना एक लचीली धातु है. इसलिए 24 कैरेट गोल्ड से ज्वेलरी नहीं बनाई जा सकती है. ज्वेलरी बनाने में सबसे ज्यादा 22 कैरेट गोल्ड का इस्तेमाल होता है. इसके अलावा लोग 20, 18 और 14 कैरेट गोल्ड का इस्तेमाल भी करते हैं. गोल्ड का रेट तय करने में सबसे प्रमुख भूमिका यह कैरेट ही निभाता है. आप जितने ज्यादा कैरेट की गोल्ड ज्वेलरी बनवाएंगे, कीमत भी उतनी ही बढ़ेगी. 

सोने की कीमत पर ध्यान देना बहुत जरूरी 

रविवार 3 दिसंबर को एक तोला (10 ग्राम) 24 कैरेट सोने की कीमत 63760 रुपये है. वहीं, 22 कैरेट में यही कीमत 58450 रुपये और 18 कैरेट का रेट 47820 रुपये प्रति 10 ग्राम है. इससे साफ समझा जा सकता है कि सिर्फ कैरेट बदल जाने से सोने की कीमत कितनी गिर जाती है. इसलिए आपको ध्यान देना चाहिए कि जिस दिन आभूषण खरीद रहे हैं, उस दिन रेट कितना है. सोने की कीमत में रोजाना उतार-चढ़ाव होता है, जो आपको भारी पड़ सकता है. साथ ही गौर करें कि 22 कैरेट के आभूषण में 24 कैरेट का रेट न देना पड़े. 

ऐसे निकाला जाता है ज्वेलरी का रेट 

ज्वेलरी का रेट तय करने में कई फैक्टर काम करते हैं. ज्वैलर्स पहले ज्वेलरी का वजन निकालते हैं. फिर उस पर सोने का रेट, मेकिंग चार्ज और जीएसटी जोड़कर आपको अंतिम कीमत बताते हैं. ज्वेलरी पर 3 फीसदी जीएसटी लगता है. यहां आपकी सावधानी काफी पैसा बचा सकती है. क्योंकि, हर ज्वेलर का मेकिंग चार्ज अलग-अलग होता है. कहीं-कहीं तो ऑफर के तहत मेकिंग चार्ज लिया ही नहीं जाता. हालांकि, आपको कम से कम दो-तीन ज्वेलर्स से रेट लेकर उनका आंकलन कर लेना चाहिए.

खेलें इलेक्शन का फैंटेसी गेम, जीतें 10,000 तक के गैजेट्स 🏆
*T&C Apply
https://bit.ly/ekbabplbanhin

ये भी पढ़ें

Dark Patterns: ईकॉमर्स कंपनियों पर नकेल, डार्क पैटर्न पर लगा बैन, जानिए कैसे गुमराह हो रहे थे आप

[ad_2]

Source link

Leave a Comment